Soorma Anthem Lyrics – Diljit Dosanjh | Taapsee Pannu | Shankar Ehsaan Loy | Gulzar

Soorma Anthem Lyrics – Diljit Dosanjh | Taapsee Pannu | Shankar Ehsaan Loy | Gulzar
Song: Soorma Anthem
Singer: Shankar Mahadevan
Music: Shankar-Ehsaan-Loy
Lyrics: Gulzar
Music Label: Sony Music

Soorma Anthem Lyrics

Piche mere andhera
Aage andhi aandhi hai
Maine aisi aandhi mein
Diya jalaya hai

Dil pathar ho jaayega
Ya pathar ka dil dhadkega
Aisi ek chattan se
Maine sar takraya hai..

Dhajji dhajji…
Dhajji dhajji raat purani
Chhed subah ki nayi yeh kahani

Zara nazar utha ke udaa dikha ke
Zameen se falak hata de oh veereya
Zara nazar utha ke udaa dikha ke
Zameen se falak hata de oh veereya, oh veereya

Tagde oye tagde dhadde soorma
Sohne oye sohne satte soorma (x2)

(Aaho…)

Maut se guzar ke
Aandhi se utar ke
Aaya… main aaya

Zindagi pukaar le
Zindagi sanwaar de
Aaya… main aaya

Badnam hua tha
Woh naam dikha de dost
Aagaaz kiya tha
Anzaam dikha de dost

Phir seene se laga le zindagi…

Zara nazar utha ke udaa dikha de
Zameen se falak hata de oh veereya
Zara nazar utha ke udaa dikha de
Zameen se falak hata de oh veereya, oh veereya…

Tagde oye tagde dhadde soorma
Sohne oye sohne satte soorma (x2)

Piche mere andhera
Aage andhi aandhi hai
Maine aisi aandhi mein
Diya jalaya hai

Dil pathar ho jaayega
Ya pathar ka dil dhadkega
Aisi ek chattan se
Maine sar takraya hai..

Zara nazar utha ke udaa dikha ke
Zameen se falak hata de oh veereya
Zara nazar utha ke udaa dikha ke
Zameen se falak hata de oh veereya, oh veereya..

Tagde oye tagde dhadde soorma
Sohne oye sohne satte soorma (x2)

Soorma Anthem Lyrics - Hindi Font

पीछे मेरे अँधेरा
आगे अंधी आंधी है
मैंने ऐसी आंधी में
दिया जलाया है..

दिल पत्थर हो जाएगा
ये पत्थर का दिल धड्केगा
ऐसी एक चट्टान से
मैंने सर टकराया है..

धज्जी धज्जी..
धज्जी धज्जी रात पुरानी
छेड़ सुबह की नयी ये कहानी

ज़रा नज़र उठा के उड़ा दिखा दे 
ज़मीन से फलक हटा दे ओ वीरेया
ज़रा नज़र उठा के उड़ा दिखा दे 
ज़मीन से फलक हटा दे ओ वीरेया, ओ वीरेया

तगड़े ओये तगड़े धड्दे सूरमा
सोहने ओये सोहने सट्टे सूरमा... X2

आहो..

मौत से गुज़र के
आंधी से उतर के
आया..मैं आया..

ज़िन्दगी प्पुकार ले
ज़िन्दगी संवर दे
आया...मैं आया...

बदनाम हुआ था
वो नाम दिखा दे दोस्त
आगाज़ किया था
अंजाम दिखा दे दोस्त

फिर सीने से लगा ले ज़िदगी..

ज़रा नज़र उठा के उड़ा दिखा के
ज़मीन से फलक हटा दे ओ वीरेया
ज़रा नज़र उठा के उड़ा दिखा के
ज़मीन से फलक हटा दे ओ वीरेया, ओ वीरेया

तगड़े ओये तगड़े धड्दे सूरमा
सोहने ओये सोहने सट्टे सूरमा... X2

पीछे मेरे अँधेरा
आगे अंधी आंधी है
मैंने ऐसी आंधी में
दिया जलाया है..

दिल पत्थर हो जाएगा
या पत्थर का दिल धड्केगा
ऐसी एक चट्टान से
मैंने सर टकराया है..

ज़रा नज़र उठा के उड़ा दिखा के
ज़मीन से फलक हटा दे ओ वीरेया
ज़रा नज़र उठा के उड़ा दिखा के
ज़मीन से फलक हटा दे ओ वीरेया, ओ वीरेया

तगड़े ओये तगड़े धड्दे सूरमा
सोहने ओये सोहने सट्टे सूरमा... X2

Post a Comment

0 Comments