Hamdard Song Lyrics - Vikrant Rathi & Sneha Ullal | हमदर्द लिरिक्स

Hamdard” is a song By Vikrant Rathi, Video song Featuring Vikrant Rathi & Sneha Ullal .
Hamdard Song Lyrics - Vikrant Rathi & Sneha Ullal
Album Name: Hamdard
Singer: Vikrant Rathi
Music Composer: Johaan Thekkan & Irfan Ali Khan
Lyricist: CA.Rsrapper

Song Name: Hamdard Lyrics (Hindi)

साथ निबाह के साथी छोड़ा
वादा किया फिर वादा तोड़ा 
यारा तेरी मुहब्बत में 
वफ़ा का नाम था झूठा 

हाँ तेरा दर्द रह गया 
तू तो गया तेरा दर्द रह गया 
ओ हमदर्द तेरा दर्द रह गया 
तू तो गया तेरा दर्द रह गया 

आँखें नमी नमी सी 
तेरी कमी कमी सी 
तेरे बिना ज़िन्दगी में 
साँसें थमी थमी सी

हाँ तेरा दर्द रह गया 
तू तो गया तेरा दर्द रह गया 
ओ हमदर्द तेरा दर्द रह गया 
तू तो गया तेरा दर्द रह गया 

तू खेल गयी जज्बातों से 
कर के झूठे वादों से 
मैं दिन रात चौबीस घंटे 
जूझ रहा तेरी यादों से

आँखों को मेरे चैन नहीं 
और तुझको कोई पेन नहीं 
जब चाहे दिल तोड़ दे 
ये प्यार है कोई खेल नहीं 

सीने में मेरे गम है 
तूने दिए हर दम है
जिस से प्यार कर बैठा 
वो बेवफा सनम है 

अब जा जा जाना तुझे 
मुझको ना परवाह तेरी 
रोएगी घड़ी घड़ी 
जब तड़पाएगी दिल की लगी 

फिर दिल को ऐतबार न होगा 
तुझसे फिर इकरार न होगा 
देख लेना आज के बाद 
मेरी जुबां पे तेरा नाम न होगा 

तू जो गया राती टूटा
मेरा खुदा मुझसे रूठा 
मैंने तो की बस वफाये 
बेवफाओं ने हमें लूटा 

हाँ तेरा दर्द रह गया 
तू तो गया तेरा दर्द रह गया 
ओ हमदर्द तेरा दर्द रह गया 
तू तो गया तेरा दर्द रह गया 

ओ हमदर्द तेरा दर्द रह गया 
तू तो गया तेरा दर्द रह गया 

Song Name: Hamdard Lyrics (Hindi)

Sath nibah ke saathi chora
Waada kiya fir wada tora
Yaara teri muhabbat mein
Waafa ka naam tha jhoota

Han tera dard rehh geya
Tu toh geya tera dard reh geya
O humdard tera dard reh geya
Tu toh geya tera dard reh geya

Ankhein nami nami si
Teri kami kami si
Tere bina zindagi mein
Sansein thami thami si

Han tera dard rehh geya
Tu toh geya tera dard reh geya
O humdard tera dard reh geya
Tu toh geya tera dard reh geya

Tu khail gai jazbaton se
Kar ke jhoote wado se
Main din raat 24 ghante
Ghonjh raha teri yaadon se

Ankhon ko mere chain nahi
Our tujhko koi pain nahi
Jab chahe dil tord de
Ye pyar hai koi khail nahi

Seene main mere gham hai
Tune diye har dham hai
Jis se pyar kar betha
Woh bewafa sanam hai

Ab ja jaa jaana tujhe
Mujhko naa parwah teri
Roye gi ghari ghari
Jab tadpaye gi dil ki lagi

Fir dil ko aitbar na ho ga
Tujhse fir ikrar na ho ga
Dekh lena aaj ke bad
Meri zubaan pe tera naam na ho ga

Tu jo geya raati toota
Mera khuda mujhse rotha
Maine to ki bas wafaye
Bewafao ne hamme luta

Han tera dard rehh geya
Tu toh geya tera dard reh geya
O humdard tera dard reh geya
Tu toh geya tera dard reh geya

O humdard tera dard reh geya
Tu toh geya tera dard reh geya

Post a Comment

0 Comments