गिलहरियाँ - दंगल

Movie - Dangal
Singer: Jonita Gandhi
Lyrics: Amitabh Bhattacharya
Music: Pritam

रंग बदल बदल के
क्यूँ चहक रहे हैं
दिन दुपहरियां

मैं जानू ना जानू ना जानू ना जानू ना
क्यूँ फुदक फुदक के
धडकनों की चल रही गिलहरियाँ

मैं जानू ना जानू ना जानू ना जानू ना
रंग बदल बदल के
क्यूँ चहक रहे हैं
दिन दुपहरियां

मैं जानू ना जानू ना जानू ना जानू ना
क्यूँ फुदक फुदक के
धडकनों की चल रही गिलहरियाँ

मैं जानू ना, जानू ना
क्यूँ ज़रा सा मौसम सिरफिरा है
या मेरा मूड मसखरा है, मसखरा है
जो जायका मनमानियों का है
वो कैसा रास भरा है

मैं जानू ना जानू ना जानू ना जानू ना
क्यूँ हजारे गुलमोहर से
भर गयी है ख्वाहिशों की टहनियां

मैं जानू ना जानू ना जानू ना जानू ना
क्यूँ हजारे गुलमोहर से
धडकनों की चल रही गिलहरियाँ
मैं जानू ना, जानू ना, जानू ना, जानू ना

हा.. हे हे हो..

एक नयी सी दोस्ती आसमान से हो गयी
ज़मीन मुझसे जल के
मुंह बना के बोले
तू बिगड़ रही है

ज़िन्दगी भी आज कल
गिनतियों से लूम के
गणित के आंकड़ों के साथ
एक आधा शेर पढ़ रही है

मैं सही ग़लत के पीछे
छोड़ के चली कचेहरियां

मैं जानू ना जानू ना जानू ना जानू ना
क्यूँ फुदक फुदक के
धडकनों की चल रही गिलहरियाँ

मैं जानू ना, जानू ना
क्यूँ ज़रा सा मौसम सिरफिरा है
या मेरा मूड मसखरा है, मसखरा है
जो जायका मनमानियों का है
वो कैसा रास भरा है

मैं जानू ना, जानू ना, जनु ना, जानू ना
क्यूँ हजारे गुलमोहर से
भर गयी है ख्वाहिशों की टहनियां

मैं जानू ना जानू ना जानू ना जानू ना
क्यूँ फुदक फुदक के
धडकनों की चल रही गिलहरियाँ
मैं जानू ना जानू ना जानू ना जानू ना..

Post a Comment

0 Comments