Rudaali (1993)

फिल्म- रुदाली (1993)
गाना- दिल हूम हूम करे
संगीतकार- भूपेन हज़ारिका 
गीतकार- गुलज़ार 
गायक- लता मंगेशकर, भूपेन हजारिका 




दिल हूम हूम करे.. घबराए
घन धम धम करे.. डर जाए
इक बूँद कभी पानी की
मोरी अंखियों से बरसाए
दिल हूम हूम करे.. घबराए
तेरी झोरी डारूं.. सब सूखे पात जो आए
तेरा छूंआ लागे.. मेरी सुखी डार हरियाए
दिल हूम हूम करे.. घबराए

जिस तन को छुआ तुने.. उस तन को छुपाऊँ
जिस मन को लगे नैना.. वो किसको दिखाऊँ
ओ मोरे चन्द्रमा.. तेरी चांदनी अंग जलाए
ऊंची तोर अटारी.. मैंने पंख लिए कटवाए

दिल हूम हूम करे.. घबराए
घन धम धम करे.. डर जाए
इक बूँद कभी पानी की
मोरी अंखियों से बरसाए

दिल हूम हूम करे.. घबराए..

Post a Comment

0 Comments