शमिताभ(2015)

फिल्म : शमिताभ
गाना - पिडली सी बातें
संगीतकार - इल्ल्याराजा
गीतकार - स्वानंद किरकिरे
गायक - अमिताभ बच्चन

पिड्ली सी बातें, क्यों करती हो शरमा के
पिड्ली सी बातें...
पिड्ली ये रातें, मैं सच करूँ आते जाते
पिड्ली ये रातें...

पगला हूँ यार, पगला है प्यार
ऐसे ही चलता है ये कारोबार...
प्यार के साए में सब पिड्ली है यार

पिड्ली सी बातें, क्यों करती हो शर्मा के
पिड्ली सी बातें...

खिली खिली सूरत तेरी,
उसके आगे सब है पिड्ली पिड्ली..
मिली मिली, ऐसी ख़ुशी..
इसके आगे सब हैं पिड्ली पिड्ली..

लपटे लिफ़ाफ़े में जो लिखी हैं मर्ज़ियाँ
चुपके से सुन ने में ही है मज़ा..
लफ़्ज़ों के कब्जों में जो छुपी है चाहतें
आँखों से पढ़ने में ही है नशा..

नशे के साए में सब पिड्ली हैं यहाँ
पिड्ली सी बातें, क्यों करती हो शर्मा के
पिड्ली सी बातें,
पिड्ली ये रातें, मैं सच करूँ आते जाते
पिड्ली ये रातें, वादे, मुरादे...





गाना - स्टीरियोफोनिक सन्नाटा
गायक - श्रुति हसन 


स्टीरियोफोनिक सन्नाटा, डॉल्बी डिजिटल सन्नाटा
स्टीरियोफोनिक सन्नाटा, डॉल्बी डिजिटल सन्नाटा
लिसेन टू द साउंड ऑफ़ सन्नाटा 
सुन सुन सन्नाटा...
कम ऑन, लेट्स डू द सन्नाटा
सुन सुन सन्नाटा....
कम ऑन, लेट्स डू द सन्नाटा


स्टीरियोफोनिक सन्नाटा, डॉल्बी डिजिटल सन्नाटा

व्हाई गुलज़ार, व्हाई  जावेद
व्हाई किरकिरे…, व्हाई जोशी
व्हाई इरशाद, व्हाई अमिताभ
व्हाई..व्हाई... सोनी

मुहं खोले बिना, मुखड़े में है क्या
कुछ बोले बिना, बोलों में है क्या
डाउनलोड रिंगटोन, एफएम, सीडी
वायरल  जायेगा, सन्नाटा
रेवेनुए, रोयल्टी, कॉपीराईट
नॉट बी द बिग वन आर इन सन्नाटा
स्टीरियोफोनिक सन्नाटा, डॉल्बी डिजिटल सन्नाटा

व्हाई सोनू, व्हाई सुनिधि
व्हाई व्हाई श्रेया , व्हाई श्रुति
नीड नो शान, नो शिल्पा
नीड नो यो यो हनी सिंह

चुप नायक है, तो गायक क्या
स्पीकर  बंद है, तो सिंगर  क्या
प्लेबैक आइटम, सूफ़ी, डुएट
टॉप द  बाजार इज सन्नाटा
पॉप पॉप जाज जाज ब्लूज सीडी रीमिक्स
द मदर ऑफ़ देम इस सन्नाटा

स्टीरियोफोनिक सन्नाटा, डॉल्बी डिजिटल सन्नाटा
स्टीरियोफोनिक सन्नाटा, डॉल्बी डिजिटल सन्नाटा
लिसेन टू द साउंड ऑफ़ सन्नाटा 
सुन सुन सन्नाटा...
कम ऑन, लेट्स डू द सन्नाटा
सुन सुन सन्नाटा....
कम ऑन, लेट्स डू द सन्नाटा


स्टीरियोफोनिक सन्नाटा, डॉल्बी डिजिटल सन्नाटा


\

गाना - इश्क़ ए फिल्लम
गायक - सूरज जगन 

इश्क़ ए फिल्लम, जुनून ए फिल्लम
है दर्द-ए फिल्लम, दवा है फिल्लम
दुआ है फिल्लम...
जुम्मा जुम्मा जहाज़ फिल्लम
हंसी ख़ुशी का है राज़ फिल्लम
है नाज़ ए फिल्लम

ज़िन्दगी का है मौत फिल्लम
हम सभी औलाद फिल्लम
जान फिल्लम....
रूह फिल्लम...

सलाम इ फिल्लम..
सलाम इ फिल्लम..

चाल फिल्लम है ढाल फिल्लम
है फुल्ली फिल्लम है ये अदा
बाल फिल्लम है हाल फिल्लम
है फुल्ली फिल्लम है ये फ़िज़ा..
आँख फिल्लम है नाक फिल्लम
है फुल्ली फिल्लम है सांस भी...
शकल फिल्लम है अकल फिल्लम है..
फुल्ली फिल्लम है अक्स भी,
नस में फिल्लम, रग में फिल्लम
खून है फिल्लम...
ज़ख्म फिल्लम और मरहम
ओनली फिल्लम
जीना कैसे जीना, फिल्लम बिना बिना
शुक्र खुद का फिल्लम है ना, है ना..

सलाम इ फिल्लम
सलाम इ फिल्लम..

इश्क़ ए फिल्लम, जुनून ए फिल्लम..

प्यार फिल्लम है मार फिल्लम है
फुल्ली फिल्लम की है हवा
यार फिल्लम है, वार फिल्लम है
फुल्ली फिल्लम का है नशा
स्कूल फिल्लम है, क्लास फिल्लम है
फुल्ली फिल्लम है ज्ञान भी...
खेल फिल्लम है, बॉल फिल्लम है
फुल्ली फिल्लम मैदान भी
क्यों है फिल्लम, ब्लू है फिल्लम
ए है फिल्लम हो हो भूख है फिल्लम
प्यास है फिल्लम, ओनली फिल्लम
जीना नहीं जीना, फिल्लम बिना बिना
ख़ुदा का भी कहना फिल्लम है ना, है ना

सलाम ए फिल्लम
सलाम इ फिल्लम..

इश्क़ ए फिल्लम, जुनून ए फिल्लम...

Post a Comment

0 Comments